10 नए नियम जिनका हर टीम और खिलाड़ी को IPL 2021 में पालन करना होगा|

इंडियन प्रीमियर लीग का सीजन 14, 9 अप्रैल को शुरू होने जा रहा है| सभी खिलाड़ी अपने होम ग्राउंड शहर में पहुंच रहे हैं पहुंचना शुरू हो चुके हैं| पिछली बार सीजन 13 कोविड-19 के चलते भारत से बाहर आयोजित किया गया था जिसकी वजह से खिलाड़ियों और और सभी टीमों को इस महामारी से बचने के लिए कहीं नए नियमों का पालन करना पड़ा| पड़ा पिछली बार की तरह ही इस बार भी क्रिकेट बोर्ड की तरफ से आई पी एल 2021 के लिए कुछ नए नियम लागू किए गए हैं जिनका सभी टीमों के खिलाड़ियों को पालन करना होगा|

यह नियम पिछली बार के नियमों से मिलते जुलते हैं जैसे कि बायो बबल| IPL सीजन 13 में पिछले आईपीएल सीजन से बिल्कुल अलग नए नियमों को लागू किया गया था| इस बार आईपीएल सीजन 14 में कोविड-19 से सुरक्षा के लिए बनाए गए सभी नियमों का कठोरता से पालन किया जाएगा|

जानिए आईपीएल 2021 का पूरा schedule और सभी IPL venue के बरे में|

इस बार के आईपीएल सीजन 14 में पुराने नियमों को बदल कर कुछ नए कठोर नियमों को लागू किया गया है|
यह सभी नए नियम कोरोना वायरस की वजह से देश में चल रहे हालातों के मद्देनजर रखते हुए लागू किया जा रहा है| यह सभी 10 नए नियम हम आपको एक-एक करके नीचे बताने जा रहे हैं:

1. खिलाड़ियों के परिवार और टीम के मालिकों को भी बायो बबल में रखा जाएगा:
जिस तरह पिछले सीजन में खिलाड़ियों को बायो बबल में रखा गया था वैसे ही इस बार आई पी एल 2021 में खिलाड़ियों के परिवार और साथ ही टीम के मालिकों को भी इस बायो बबल में रखा जाएगा| इस बबल से कोई भी तभी बाहर निकल सकता है जब उसका निकलना बहुत आवश्यक हो| इसके अलावा उन्हें बीसीसीआई के चीफ मेडिकल ऑफिसर से बबल छोड़ने के लिए लिखित में इजाजत लेनी होगी|

2. होटल के जिस एरिया में टीम रहेगी उस एरिया को अन्य लोगों के लिए वर्जित रखा जाएगा:
टीमों की सुरक्षा के लिए बीसीसीआई नहीं है निर्धारित किया है कि टीम जिस होटल में रुकेगी उसे पूरी तरह से अपने लिए ही बुक करवा ले| यदि ऐसा संभव न हो सके तो होटल का एक पूरा विंग टीम के लिए आरक्षित करवा ले और उन लोगों के लिए बंद कर दिया जाए जो समूह का हिस्सा नहीं है| इससे बाहर का कोई आदमी खिलाड़ियों के संपर्क में नहीं आ पाएगा|

जानिए इस IPL 2021 में ऑडियंस को ग्राउंड में आईपीएल देखने दिया जायेगा या नही|

3. बबल अखंडता प्रबंधक:
यह सुनिश्चित करने के लिए की टीमें बायो बबल के नियमों का उल्लंघन नहीं कर रही है हर एक पक्ष के लिए ‘बबल इंटीग्रिटी मैनेजर’ की 4 सदस्य वाली एक टीम गठित की जाएगी| इस टीम का काम यह सुनिश्चित करना होगा कि खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ कड़े नियमों का पालन करें| साथ ही इनकी जिम्मेदारी होगी कि किसी भी प्रकार के नियमों के उल्लंघन के बारे में अधिकारियों को सूचित करें|

4. विदेशी खिलाड़ियों को अपने स्वयं के खर्चे वाहन करने होंगे:
आईपीएल अधिकारियों ने यह भी निर्णय लिया है कि कुछ चुनिंदा स्थानों से आने वाले ऑडियो अर्थात् – यूके, यूरोप, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और मध्य पूर्व को 7-दिवसीय क्वारंटाइन से गुजरना होगा| इसकी लागत उन्हें खुद ही वह करनी होगी|


5. गेंदों का तत्काल प्रतिस्थापन:
खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए यह भी निर्णय लिया गया है कि यदि खेल के दौरान कोई गेंद स्टैंड में या मैदान के बाहर जाती है तो उसे तुरंत बदल दिया जाएगा| बदली हुई गेंद को बाहर नहीं किया जाएगा बल्कि उसे सेनेटाइज करके आगे के इस्तेमाल के लिए संग्रह में रख दिया जाएगा|

Upstox बना IPL 2021 का ऑफिसियल पार्टनर


6. गाड़ियों का एक बबल से दूसरे बबल में स्थानांतरण:
बीसीसीआई ने खिलाड़ियों पर क्वारंटाइन का भार कम करने के लिए यह निर्णय लिया है कि जो खिलाड़ी भारत बनाम इंग्लैंड सीमित ओवरों की श्रृंखला का हिस्सा है वे खिलाड़ी अपने मौजूदा बायो बबन से आईपीएल के बायो बबल में बिना किसी देरी के स्थानांतरित हो सकते हैं| इससे उनको 7 दिन की अवधि वाले quarantine में नहीं रहना होगा|


7. चेन्नई में होने के लिए विशेष आवश्यकताएं:
तमिल नाडु प्रांत में लागू किए गए विशेष नियमों के अनुसार चेन्नई पहुंचने वाले खिलाड़ियों को एक विशेष ई-पास प्रदान करना होगा जो तमिलनाडु सरकार द्वारा जारी किया जा रहा है|

8. बबल में प्रवेश के लिए तीन आरटी-पीसीआर टेस्ट की आवश्यकता होगी:
बायो बाबा में प्रवेश करने से पहले, उन सभी को जो दूसरे बुलबुले से नहीं आ रहे हैं, उन्हें सात दिनों की अवधि वाले क्वारंटाइन के दौरान तीन आरटी-पीसीआर परीक्षणों से गुजरना होगा। यदि वह तीनों परीक्षण में नेगेटिव आते हैं तभी उन्हें बायो बबल में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी|


9. अलग चेक-इन काउंटर:
खिलाड़ियों को किसी भी प्रकार के नुकसान से बचाने के लिए, उनके लिए होटलों में पलक से चेक इन काउंटर की व्यवस्था की जाएगी| इससे यह सुनिश्चित होगा कि खिलाड़ी अपने कमरे से खेल मैदान में आने-जाने के दौरान बाहरी तत्वों से अलग रहेंगे|


10. बीसीसीआई के अधिकारियों और खिलाड़ियों के बीच कोई संपर्क नहीं होगा:
बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारी किसी भी प्रकार के बायो बबल में शामिल नहीं होंगे, इसलिए उनको बायो बबल में उपस्थित किसी भी खिलाड़ी या अधिकारी से मिलने की अनुमति नहीं दी जाएगी|10.

Leave a Comment